Bharat Ka Bhugol: Civil Seva/Rajya Seva Ki Prarambhik Evam Mukhya Pariksha

545.00 540.00

जब हम इस पुस्तक के नामकरण को देखते हुए उसका सूक्ष्म अध्ययन करने की कोशिश करते हैं,तो पाते हैं कि इसमें अपने देश भारत के भौगोलिक परिदृश्य में समाहित उन समस्त पहलुओं की विश्लेषणात्मक रूप से चर्चा की गयी है जिन्हें सिविल सेवा एवं हिंदी भाषी राज्यों के राज्य सेवा की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षाओं में सामान्य अध्ययन के अद्यतन सिलेबस में पूर्णतया स्थान दिया गया है।इसके प्रत्येक अध्याय में निहित विषय वस्तु को और अधिक पठनीय एवं ग्राह्य बनाने हेतु यथासम्भव मानचित्रों / चार्टों /तालिकाओं का उपयोग किया गया है ताकि अभ्यर्थियों / पाठकों को इस विषय को पढ़ने में आनंद की अनुभूति हो,क्योंकि मानचित्र भूगोल की आत्मा होती है तथा इसके बिना कोई भी भौगोलिक अध्ययन अधूरा है। इसके अतिरिक्त इस पुस्तक को और अधिक परीक्षोपयोगी बनाने हेतु इसके प्रत्येक अध्याय में संबंधित परीक्षाओं के पूर्व वर्षों के वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को तथ्यों के रूप में समावेशित किया गया है, जो अभ्यर्थियों के लिए गागर में सागर की तरह कार्य करते हुए एक अच्छे मार्गदर्शक की भूमिका में उस एक सफल पथिक की तरह कार्य करना चाहेगा,जो अपने परिश्रम से कभी थकता नहीं।

Out of stock

%d bloggers like this: